Stock Broker क्या काम करता है-

– बिना ब्रोकर के कोई भी निवेशक Stock Exchange से शेयर्स नहीं खरीद सकता है! – Stock Exchange और Investors के बीच Stock Broker एक कड़ी का काम करता है!

– बिना ब्रोकर के कोई भी निवेशक Stock Exchange से शेयर्स नहीं खरीद सकता है! – Stock Exchange और Investors के बीच Stock Broker एक कड़ी का काम करता है!

स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए आप Financial Market का कोई कोर्स कर सकते हैं. कॉमर्स, अकाउंट, इकॉनोमी, स्टेटिक्स जैसे विषय आपको स्टॉक ब्रोकर बनने में मदद कर सकते हैं.

स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए आप Financial Market का कोई कोर्स कर सकते हैं. कॉमर्स, अकाउंट, इकॉनोमी, स्टेटिक्स शेयर मार्केट में ब्रोकर क्या होता है? जैसे विषय आपको स्टॉक ब्रोकर बनने में मदद कर सकते हैं.

Learn your team

Stock Broker Kaise Bane –

Stock Broker Kaise Bane –

स्टॉक ब्रोकर बनने की योग्यता

स्टॉक ब्रोकर बनने की योग्यता

– एक स्टॉकब्रोकिंग फ़र्म में कम से कम दो सालों का अनुभव होना जरुरी है. – एक सब ब्रोकर (ब्रोकर बनने से पहले) को नौकरी प्राप्त करने के लिए 12 वीं पास होना जरुरी है.

– एक स्टॉकब्रोकिंग फ़र्म में कम से कम दो सालों का अनुभव होना जरुरी है. – एक सब ब्रोकर (ब्रोकर बनने से पहले) को नौकरी प्राप्त करने के लिए 12 वीं पास होना जरुरी है.

Institute Of Company Secretaries Of India Institute Of Capital Market Development All India Centre For Capital Market Studie

Institute Of Company Secretaries Of India Institute Of Capital Market Development All India Centre For Capital Market Studie

Learn your team

भारत में स्टॉक ब्रोकर इंस्टिट्यूट

भारत में स्टॉक ब्रोकर इंस्टिट्यूट

Stockbroker Ke Liye Entrance Exams)-

Stockbroker Ke Liye Entrance Exams)-

– BSE Certification On Central Depository – BSE Certification On Derivatives Exchange – BSE Certification On Currency Future

– BSE Certification On Central Depository – BSE Certification On Derivatives Exchange – BSE Certification On Currency Future

Top five stock broker accounts in India : (स्टॉक ब्रोकर ट्रेंडिंग)

stock broker

नमस्कार दोस्तों, आज हम बात करने वाले हैं शेयर मार्केट से जुड़े एक बहुत ही रोचक और जरूरी विषय के बारे मे। जैसा की stock broker, meaning, stock broker india, हम सभी जानते हैं की आजकल शेयर मार्केट किस कदर चर्चे का विषय बना हुआ है।

हर कोई शेयर मार्केट मे निवेश करना चाहता है। लेकिन यदि आपको किसी बड़ी कंपनी मे निवेश (invest) करना है जैसे की apple, google, facebook, इत्यादि, तो आपको एक broker/ legal advisor की आवश्यकता होगी।

यह वोह इंसान या संस्था होती है जो की निवेशकों को राय देती है की उन्हे किस सतो आईये जानते हैं की ब्रोकर क्या है, यह आपके लिए कैसे सहायक है और top 5 broker accounts कौन कौन से हैं।

Table of Contents

क्या है ब्रोकर? (What is a broker?)

ब्रोकर किसी third party का नाम है जो आपके और आपके द्वारा खरीदे गए शेयर के बीच का लिंक बनता है। यह आपके सभी trading transactions को आसान बनाता है।

एक ब्रोकर का काम होता है आपके behalf पर शेयर मार्केट मे शेयर्स खरीदना और बेचना। आपका ब्रोकर आपको यह भी suggest करता है की आपको कौनसा शेयर खरीदना चाहिए और कौनसा नही। इस काम के लिए यह ब्रोकर आपसे अपनी commission मांगता है।

एक ब्रोकर कोई इंसान भी हो सकता है और कोई financial body भी, जैसे की बैंक जो की आपके बदले मे
आपके सारे स्टॉक मार्केट के transactions करता है।

यह सारे काम हालाँकि आपकी मर्ज़ी सेही किये जाते हैं पर इनको करने वाली याही third party होती है।

स्टॉक ब्रोकर (stock broker) क्या होता हैं? kaise bane in hindi

शेयर मार्केट , स्टॉक ब्रोकर , स्टॉक एक्सचेंज , सेंसेक्स , निफ़्टी इत्यादि ये सारे नाम आपने जरूर सुना होगा कम टाइम में इन्वेस्टमेंट के द्वारा अच्छी कमाई की चाहत रखने लोग अक्सर स्टॉक एक्सचेंज में निवेश करते हैं जिसे हम लोग आम भाषा में शेयर मार्केट कहते हैं। इन्वेस्टर और शेयर मार्केट इन दोनों के बीच जो काम करता है उसे हम स्टॉक ब्रोकर कहते हैं।

आज की इस पोस्ट में हम इसी के बारे में आपको शुरू से लेकर अंत तक सारी जानकारी देने वाले हैं यह जानकारी जानने के लिए इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें।

Stock broker क्या है

स्टॉक ब्रोकर वह है जो investment karne wala और शेयर मार्केट दोनों के बीच काम करता है बिना stock broker के कोई भी इन्वेस्टर या निवेशक अपना ट्रेड शेयर मार्केट में नहीं डाल सकता है

इसलिए दोस्तों यदि आप स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो आपको डिमैट शेयर मार्केट में ब्रोकर क्या होता है? अकाउंट और एक ट्रेडिंग अकाउंट खोलना होता है और यह दोनों अकाउंट स्टॉक ब्रोकर द्वारा ही खोला जाता है

किसी भी इन्वेस्टर की buy या sell का आर्डर ब्रोकर ही स्टॉक एक्सचेंज के पास पहुंचाया जाता है

देखा जाए तो शेयर बाजार में दो तरह के स्टॉक ब्रोकर काम करते हैं पहले ब्रोकर को हम full service stock broker कहते हैं दूसरे ब्रोकर को हम discount stock broker तो आइए हम इन दोनों प्रकार के बारे में डिटेल से जानकारी देते हैं कि इनका क्या-क्या काम होता है।

full service stock broker क्या है?

यह स्टॉक ब्रोकर को सबसे बढ़िया ब्रोकर माना जाता है क्योंकि यह ब्रोकर अपने क्लाइंट को तरह-तरह की सुविधाएं प्रदान करते हैं जैसे शेयर कब खरीदे , शेयर कब बेचें मोबाइल , फोन पर ट्रेडिंग करने की सुविधा , आईपीओ में इन्वेस्ट की सुविधा इसके अलावा वह फूल टाइम कस्टमर सर्विस की सुविधा भी प्रदान करते हैं। इसके मद्देनजर देखा जाए तो इन स्टॉक ब्रोकर की फीस भी ज्यादा होती है क्योंकि यह फुल टाइम सर्विस प्रदान करते हैं।

आइए हम आपको कुछ पॉपुलर फुल सर्विस स्टॉक ब्रोकर के बारे में बताते हैं

discount stock broker क्या है?

यह स्टॉक ब्रोकर अपने क्लाइंट से कम फीस में स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट करने की सुविधा प्रदान कर देते हैं क्योंकि यह अपने क्लाइंट को स्टॉक एडवाइजरी और रिसर्च फैसिलिटी इत्यादि जैसी सुविधाएं प्रदान नहीं करते फुल स्टॉक ब्रोकर की तरह इनका ज्यादा से ज्यादा काम ऑनलाइन ही होता है

आइए हम कुछ पॉपुलर डिस्काउंट स्टॉक ब्रोकर के बारे में आपको बताते हैं

  • ZERODHA
  • MASTER CAPITAL SERVICES LTD
  • SOUTH ASIAN STOCK LTD

Stock broker कैसे बने?

दोस्तों यदि आप भी एक स्टॉक ब्रोकर बनना चाहते हैं तो आपको फाइनेंशियल मार्केट का बहुत ही अच्छा ज्ञान होना आवश्यक है इसके साथ-साथ आपके पास स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए तरह-तरह के परमिशन लेने पड़ते हैं तब जाकर आप एक स्टॉक ब्रोकर के रूप में लोगो को ट्रेडिंग करने की सुविधा प्रदान कर सकते हैं तथा अपनी कमाई कर सकते हैं।

वैसे देखा जाये तो स्टॉक ब्रोकर बनना आसान काम नहीं है इसके लिए आपको नॉलेज के साथ-साथ आपको तरह-तरह की चीजें होना आवश्यक है।

आईये हम आपको डिटेल में जानकारी देते है कि आप एक स्टॉक ब्रोकर किस प्रकार बन सकते हैं।

#1. स्टॉक ब्रोकर बनने वाले इच्छुक व्यक्ति को सबसे पहले Capital Market , Stock broking और निवेश संबंधित और भी अन्य सुविधाओं के बारे में कोर्स करना पड़ता है। भारत के कुछ प्रशिक्षण संस्थान में यह कोर्स कराए जाते हैं।

#2. जब यह कोर्स पूरा कर लेते हैं तो आपको किसी स्टॉक ब्रोकिंग कंपनी के साथ जुड़कर कम से कम 2 साल तक इस मार्केट का अनुभव लेना शेयर मार्केट में ब्रोकर क्या होता है? पड़ता है।

इसके बाद आपको स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए सेबी के पास रजिस्ट्रेशन करना पड़ता है , NSE और BSE का मेंबरशिप लेना पड़ता है , डिपॉजिटरी की मेंबरशिप लेना पड़ता है और भी बहुत सारे काम होते हैं तो आइए इनके बारे में हम आपको डिटेल में बताते हैं

SEBI के साथ रजिस्ट्रेशन करें

स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए आपको सर्वप्रथम SEBI के साथ रजिस्ट्रेशन करना पड़ता है जब आप SEBI पर रजिस्ट्रेशन करते हैं तो SEBI आपके बारे में पूरा रिसर्च करती है कि आपके पास ऑफिस है या नहीं और यह बिजनेस चलाने के लिए आपके पास जरूरी कागजात है या नहीं जब यह रजिस्ट्रेशन आपका पूरा हो जाता है तो आपको SEBI के द्वारा एक सर्टिफिकेट मिल जाता है।

NSE और BSE का मेंबरशिप लें

SEBI के द्वारा सर्टिफिकेट सर्टिफिकेट लेने के बाद अब बारी आती है आपको NSE और BSE का मेंबरशिप लेने आप मेंबरशिप फीस को देकर इनकी मेंबरशिप ले सकते हैं इसके साथ NSE और BSE के द्वारा सिक्योरिटी डिपॉजिट कराया जाता है तब जाकर आपको इनकी मेंबरशिप मिल जाती है।

इनकी मेंबरशिप लेने के लिए आपकी उम्र 21 वर्ष से ऊपर तक होनी चाहिए तथा आपके पास किसी स्टॉक एक्सचेंज के साथ काम करने का 2 साल का एक्सपीरियंस होना चाहिए।

Depository Membership लें

इसके साथ-साथ दोस्तों आपको डिपॉजिटरी का मेंबरशिप लेना पड़ता है इसका मेंबरशिप लेने के लिए आपको मेंबरशिप फीस तथा सिक्योरिटी फीस देनी होती है तब जाकर आपको डिपॉजिटरी मेंबरशिप मिलती ह

एक अच्छा ट्रेडिंग सॉफ्टवेयर तथा मोबाइल ऐप बनवाएं

दोस्तों जब आप एक स्टॉकब्रोकर बन जाते हैं तो आपको एक अच्छा ट्रेडिंग सॉफ्टवेयर तथा मोबाइल ऐप भी बनानी पड़ती है ताकि कस्टमर आपके तरफ अट्रैक्टिव हो तथा आपके सॉफ्टवेयर का मोबाइल है पर आकर ट्रेडिंग करें ताकि आपको फायदा हो इसके अलावा आपको इसकी एडवरटाइजिंग भी करनी होती है ताकि आपके सॉफ्टवेयर तथा मोबाइल ऐप को लोग जानें।

यह पूरा पोस्ट पढ़ने के बाद आप जानते होंगे दोस्तों के स्टॉक ब्रोकर बनने के काफी रजिस्ट्रेशन और बहुत सारे पैसे की आवश्यकता होती हैं

मैं आपको बता दो दोस्तों यदि आप एक स्टॉक ब्रोकर बनना चाहते हैं तो आपके पास कम से कम 4, 5 करोड़ रूपया होना चाहिए तब जाकर आप एक स्टॉक ब्रोकर बन सकते हैं

स्टॉक ब्रोकर बनने के बाद कमाई

स्टॉक ब्रोकर की कमाई कोई फिक्स कमाई नहीं होती है जितने कस्टमर आप से जुड़ेंगे आपको उतना ही फायदा होता है आपकी पूरी कमाई कस्टमर के ऊपर ही निर्भर करता है क्योंकि कस्टमर की ट्रेडिंग का जो tex लेते हैं वही आपकी कमाई होती हैं।

आशा करता हूं दोस्तों कि हमारे द्वारा लिखी हुई या पोस्ट आपको पसंद आई होगी तथा आपको इसके बारे में शुरू से लेकर अंत तक जानकारी मिली होगी यदि आपको यह पोस्ट पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करें तथा इसके संबंधित आपके पास कोई राय हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं।

Career in Stock Market: स्‍टॉक मार्केट में ऐसे बनाएं करियर और करें मोटी कमाई

Career in Stock Market: पैसा कमाने के लिए जानकारी होना बेहद ज़रूरी है.

Career in Stock Market: पैसा कमाने के लिए जानकारी होना बेहद ज़रूरी है.

Career in Stock Market: आजकल लोगों को स्टॉक मार्किट और स्टॉक एक्सचेंज में काफी दिलचपी बढ़ने लगी है. कोई भी इस करियर में . अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated : August 19, 2022, 11:02 IST

हाइलाइट्स

स्टॉक ब्रोकर के तौर पर करियर बनाने के बाद किसी की भी सालाना सैलरी 2 से 8 शेयर मार्केट में ब्रोकर क्या होता है? लाख रुपये तक पहुँच सकती है.
स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए उम्मीदवार को कोर्स इसका कोर्स करना होगा.
इस क्षेत्र में पैसा कमाने के लिए जानकारी और दिलचस्पी दोनों ही बेहद ज़रूरी है.

नई दिल्लीः Career in Stock Market: दुनिया में हो रही हर चीज़ की खबर रखने वाले लोग शेयर बाजार, स्टॉक एक्सचेंज, स्टॉक ब्रोकर, निफ्टी और सेंसेक्स के बारे ज़रूर पता होगा. इन दिनों शेयर बाजार में पैसा लगाना आम हो गया है. लेकिन शेयर बाजार कोई बच्चों का खेल नहीं है. इसमें जो पैसा लगता है उसे स्टॉक मार्केट की काफी जानकारी होती है.

इस क्षेत्र में पैसा कमाने के लिए जानकारी और दिलचस्पी दोनों ही बेहद ज़रूरी है. जो शख्स किसी इन्वेस्टर और शेयर मार्केट के बीच काम करता है, उसे स्टॉक ब्रोकर कहते हैं. किसी ब्रोकर के बिना एक इन्वेस्टर या निवेशक के लिए स्टॉक मार्केट में अपना अच्छा परफॉर्मेंस दे पाना बेहद मुश्किल है. इस फील्ड में भी जॉब की कई अवसर मौजूद हैं.

स्टॉक ब्रोकर 2 तरह के होते हैं
फुल सर्विस स्टॉक ब्रोकर – फुल सर्विस स्टॉक ब्रोकर अपने क्लाइंट्स को स्टॉक एडवाइजरी, स्टॉक खरीदने के लिए मार्जिन मनी की सुविधा, मोबाइल फोन पर ट्रेडिंग सुविधा और IPO में इन्वेस्टमेंट जैसी सर्विस देते हैं. फुल टाइम स्टॉक ब्रोकर की कस्टमर सर्विस काफी को काफी अच्छा माना जाता है. साथ ही इनकी कमाई भी अच्छी खासी हो जाती है.

डिस्काउंट स्टॉक ब्रोकर – दूसरा होता है डिस्काउंट ब्रोकर. अपने क्लाइंट से काफी कम ब्रोकरेज लेकर शेयर खरीदने और बेचने की सुविधा प्रदान करते हैं. लेकिन डिस्काउंट स्टॉक ब्रोकर अपने किसी भी क्लाइंट को स्टॉक एडवाइजरी और रिसर्च की सुविधा नहीं देते हैं. अकाउंट खोलने से लेकर सभी काम इनके ऑनलाइन ही होते हैं.

स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए एलिजिबिलिटी
स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए उम्मीदवार को कोर्स इसका कोर्स करना होगा. एक स्टॉक ब्रोकर को एकाउंटेंसी, कॉमर्स, इकोनॉमिक्स, स्टेटिस्टिक्स या बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन की अच्छी नॉलेज होनी बेहद जरूरी है. इसमें करियर बनाने के लिए इन विषयों में ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते हैं. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का ‘एनसीएफएम कोर्स’ ऑनलाइन सर्टिफिकेशन प्रोग्राम भी उपलब्ध हैं.

क्या होंगे करियर ऑप्शन

क्या होगी सैलरी
इस फील्ड में स्टॉक एक्सचेंज, फॉरेन इन्वेस्टमेंट फर्म्स, रेगुलेशन अथॉरिटी, म्यूचुअल फंड वाली कंपनी, इन्वेस्टमेंट कंसल्टेंसी, ब्रोकर फर्म्स, इंश्योरेंस एजेंसी, बैंक और दूसरे इंस्टिट्यूट में भी करियर का अच्छा स्कोप हैं. स्टॉक ब्रोकर के तौर पर करियर बनाने के बाद किसी की भी सालाना सैलरी 2 से 8 लाख रुपये तक पहुँच सकती है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

STOCK BROKER KYA HOTA HAI?

Zerodha

हम अपने स्टॉक मार्केट को स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग अकाउंट की मदद से आर्डर देते है की हमें कौन सा शेयर कितनी मात्र में खरीदना और कौन सा शेयर कब बेचना है, और स्टॉक ब्रोकर हमारे सभी खरीदने और बेचने के आर्डर को स्टॉक मार्केट में कम्पलीट कराने का काम करता है, और इसके बदले वो हमसे जो फीस लेता है उसे ब्रोकरेज कहते है.

आजकल शेयर्स की खरीद और बिक्री पूरी तरह से इन्टरनेट की मदद से होता है, और जैसे ही हम अपने ब्रोकर के पास कोई स्टॉक खरीदने और बेचने का आर्डर देते है,ब्रोकर अगले सेकंड ही उस आर्डर को स्टॉक मार्केट तक पंहुचा देता है, और स्टॉक मार्केट हमारे आर्डर को किसी दुसरे काउंटर आर्डर से मैच करके हमारा आर्डर कम्पलीट कर देता है, ये सब कुछ बहुत फ़ास्ट तरीके से होते है,

STOCK खरीदने और बेचने का आर्डर STOCK BROKER को किस तरह से दिया जाता है?

स्टॉक ब्रोकर को स्टॉक खरीदने और बेचने का आर्डर देने के लिए स्टॉक ब्रोकर द्वारा दी जाने वाली सुविधा के अनुसार हम आर्डर दे सकते है, जैसे-

  1. स्टॉक ब्रोकर को फ़ोन करके
  2. स्टॉक ब्रोकर द्वारा दी जाने वाली TRADING ACCOUNT में इन्टरनेट की मदद से LOG IN करके,
  3. स्टॉक ब्रोकर द्वारा दी जाने वाली मोबाइल APPLICATION आधारित ट्रेडिंग अकाउंट के माध्यम से,

यहाँ इस बात को ध्यान में रखना जरुरी है कि आज हम सभी इन्टरनेट का इस्तेमाल मोबइल से ही ज्यादा करते है, और मोबाइल हर वक्त हमारे पास होता है,

इसलिए हमें ब्रोकर के पास अपना अकाउंट ओपन करते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि ब्रोकर द्वारा दी जाने वाली मोबाइल ट्रेडिंग एप्लीकेशन सही तरह से काम करने वाला और उसका USER INTERFACE भी बिलकुल आसन हो,

जिस से हम आसानी से आर्डर PLACE कर सके,और अपने इन्वेस्टमेंट पे हमेशा नजर रख सके,

TYPE OF STOCK BROKER

स्टॉक ब्रोकर द्वारा दी जाने वाली सर्विस के आधार पर, भारत में MAINLY तीन तरह के स्टॉक ब्रोकर है,

  1. FULL SERVICE STOCK BROKER
  2. DISCOUNT BROKER

आइये अब इन तीनो के बारे मे थोड़ी डिटेल्स में बात करते है-

FULL SERVICE STOCK BROKER

फुल सर्विस ब्रोकर अपने क्लाइंट्स को काफी सारी सर्विस देते है, फुल सर्विस देने के कारण इनका ब्रोकरेज फीस भी काफी ज्यादा होता है,

फुल सर्विस ब्रोकर में सबसे ज्यादा POPULAR कुछ स्टॉक ब्रोकर है – ICICI DIRECT, SHERKHAN, और ANGEL BROKING,

फुल सर्विस स्टॉक ब्रोकर के द्वारा दी जाने वाली कुछ मुख्य सर्विस, जैसे –

  1. स्टॉक एडवाइजरी सर्विस- (कौन सा शेयर कब ख़रीदे और कब बेचे ),
  2. स्टॉक खरीदने के लिए मार्जिन मनी की सुविधा ,
  3. फ़ोन पे ट्रेड की सुविधा,
  4. IPO से शेयर खरीदने की सुविधा
  5. PORTFOLIO MANAGEMENT की सुविधा,

DISCOUNT STOCK BROKER

DISCOUNT स्टॉक ब्रोकर अपने क्लाइंट्स को शेयर मार्केट में ब्रोकर क्या होता है? काफी कम ब्रोकरेज लेकर शेयर खरीदने और बेचने की सेवा देते है,

डिस्काउंट ब्रोकर का ज्यादा FOCUS अपने CUSTOMERS को TECHNOLOGY के इस्तेमाल से बेहतर से बेहतर ट्रेडिंग प्लेटफोर्म बिलकुल कम ब्रोकरेज के साथ देना होता है,

DISCOUNT स्टॉक ब्रोकर में सबसे ज्यादा POPULAR कुछ स्टॉक ब्रोकर है – ZERODHA, 5paisa, और RKSV,

DISCOUNT BROKER इसलिए कम फ़ीस लेते है, क्योकि वो किसी तरह का STOCK ADVISORY और RESEARCH सर्विस नहीं देते है, और उनके ऑफिस भी बहुत कम होते है, उनका सारा काम ऑनलाइन होता है,

यहाँ तक कि ACCOUNT ओपन करने का काम भी ONLINE ही होता है

स्टॉक ब्रोकर के पास कौन सा Account ओपन किया जाता है?

Stock Broker के पास नॉर्मली दो account खोला जाता है –

  1. Trading Account
  2. Demat Acconnt

जब आप किसी बैंक के पास अपना ट्रेडिंग और Demat अकाउंट खोलते है, तो Normally उस बैंक में आपका Saving Account चाहिए होता है, और कुछ बैंक अपने ग्राहकों को 3 In One अकाउंट की सुविधा भी देते है, जिसमे Saving अकाउंट के साथ Demat और Trading Account भी खोल दिया जाता है,

कुछ प्रमुख इंडियन TOP STOCK BROKE LIST
TYPE OF SERVICE Broker Name Number of Clients
FULL ICICI SECURITIES LTD 5,91,504
FULL HDFC SECURITIES LTD 4,68,844
FULL SHAREKHAN LTD 3,50,509
FULL KOTAK SECURITIES LTD 2,57,563
FULL AXIS SECURITIES LTD 2,36,534
FULL INDIA INFOLINE LTD 2,22,348
FULL ANGEL BROKING PVT LTD 2,08,545
FULL MOTILAL OSWAL SECURITIES LTD 1,92,095
FULL KARVY STOCK BROKING LTD 1,74,690
FULL GEOJIT BNP PARIBAS FINANCIAL

अगर पोस्ट अच्छा लगा तो नीचे अपना कमेंट या सवाल जरुर लिखे,

रेटिंग: 4.49
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 787